सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पृथ्वी दिवस पर निबंध | पृथ्वी दिवस के महत्व पर निबंध 2021 | world earth day essay in hindi

पूरे सौरमंडल में केवल पृथ्वी ही है जहां पर जीवन, जल खाना, पेड़ पौधे, और पहाड़ है। साथ ही साथ हम सभी व्यक्ति भी है। आज इस पोस्ट में आपको पृथ्वी दिवस पर निबंध 2021 और पृथ्वी दिवस के महत्व पर निबंध 2021 पर पूरी जानकारी प्राप्त होगी। पृथ्वी दिवस हर साल 22 अप्रैल को मनाया जाता है। Earth day essay in hindi कक्षा 1,2,3,4,5,6,7,8,9 से 12 तक के किसी भी छात्र के लिए है और कंपिटीशन लेवल के लिए भी लाभदायक साबित होगा।

धरती माता पर निबंध इन हिंदी

अगर आप पृथ्वी दिवस पर निबंध लिखने की तैयारी कर रहे हैं या फिर लिख चुके हैं। तो आपको बता दूं कि पृथ्वी दिवस के महत्व बहुत ही ज्यादा है। क्योंंकि यही हमारे जीवन का सार है हमारे पैदा होने से लेकर हमारे मरने तक हमारा भार पृथ्वी ही झेलती है।

अगर आपको पृथ्वी दिवस पर निबंध लिखना है तो हम आपके लिए पृथ्वी दिवस के ऊपर निबंध लाए हैं जिसको आप अपने स्कूल या किसी भी मंच पर लिख सकते हैं। और किसी भी कंपटीशन में लिखकर अपने आपको प्रथम स्थान दिला सकते हैं।

पृथ्वी बचाओ पर निबंध हिंदी में 

प्रस्तावना:-

हमारे देश के पौराणिक ग्रंथो में पृथ्वी को मां का दर्जा दिया जाता है। यह हमारी आश्रयदाता भी है जिनसे हमें जल, धान, गेहूं, सब्जियां तथा खनिज पदार्थ आदि प्रकार कि चीज़े ग्रहण करने को मिलती है।

धरती माता रक्षा करना हमारा कर्तव्य भी है। यह सारी अमूल्य चीज़े हमें उपहार में मिली है। हम अपनी मेहनत से धन अथवा पैसा तो कमा सकते हैं मगर इन धरोहर को नहीं कमा सकते हैं। इसलिए पृथ्वी दिवस पर निबंध में इसको कैसे बचाए उसकी बारे में भी जानने को मिलेगा। हमारी पृथ्वी बहुत बड़ी है, और इसका काफी बड़ा भाग पानी से घिार हुआ है। पानी का हिस्सा ज्यादा होने के कारण पृथ्वी को "Blue Planet" भी कहते हैं।

पृथ्वी दिवस पर निबंध 2021
पृथ्वी दिवस पर निबंध 2021

पृथ्वी दिवस क्यों मनाना चाहिए:-

पृथ्वी दिवस हमें इसलिए मनाना चाहिए क्योंकि हम मनुष्यों की लापरवाही और गैरजिम्मेदारी के चलते हमारी पृथ्वी पर गहरा संकट आ चुका है।

ग्लोबल वार्मिंग और कई प्रकार के पॉल्यूशन के चलते इसपर बहुत बड़ा खतरा मंडरा रहा है। इसलिए हमे एक जुट होकर पृथ्वी को बचाने के लिए और सभी को उनके कर्तव्यों की याद दिलाने के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए ये पृथ्वी दिवस हमें मनाना चाहिए।

हमारा धरती माता के प्रति कई सारे कर्तव्य है और लोग उसका तिरस्कार करते आ रहे हैं, इसलिए पृथ्वी दिवस जैसे जागरूकता बढ़ाने वाले आयोजनो को हमारे भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में मनाया जाना चाहिए।

पृथ्वी दिवस का इतिहास:-

पहली बार पृथ्वी दिवस यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका (USA) में मनाया गया। 2000 से भी अधिक यूनिवर्सिटी, स्कूल और कालेजों के छात्रों ने इसमें भाग लिया और सभी ने बड़े ही शांतिपूर्ण तरीके से पर्यावरण की गिरावट के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

1970 में पहली बार पृथ्वी दिवस (Earth day) मनाया गया। और तब से लेकर आज तक पृथ्वी दिवस 22 अप्रैल को पूरे विश्व में मनाया जाता है।
पृथ्वी दिवस की शुरुआत अमेरिकी सीनेटर, जेराल्ड नेल्सन ने की थी। 

पृथ्वी दिवस का आयोजन:-

पृथ्वी दिवस का आयोजन हम कुछ इस प्रकार मनाते हैं की इस दिन हम पेड़ पौधे लगाते हैं। और तरह तरह के स्वच्छता अभियान में भाग लेते हैं। सड़क स्वच्छता में भाग लेते हैं और पर्यावरण को सुरक्षित रखने वाले अभियान में भी भाग लेते हैं। पृथ्वी दिवस का ये पर्व हम पेड़ पौधे लगाकर और आस-पड़ोस पर साफ सफाई करके इस पर्व को बनाते हैं।

सड़क स्वच्छता पर निबंध (पूरी जानकारी हिंदी में)

पृथ्वी दिवस का महत्व:-

पृथ्वी दिवस का महत्व पृथ्वी दिवस एक बहुत ही सफल अंतरराष्ट्रीय आयोजन साबित हुआ जिसमें हर वर्ग के लोगों ने बड़े-छोटे व्यवसाय, संसद, किसान, चाहे गरीब हो या अमीर, बच्चे हो या बुजुर्ग, सभी शामिल हुए।

पृथ्वी दिवस को भरपूर समर्थन भी मिला और एक दृढ़ संकल्प लिया गया जैसे वायु, जल, अथवा सभी ना-ना प्रकार के प्रदूषण जो फैल रहे हैं, और पृथ्वी को मलिन कर रहे हैं उसको रोकने का हर संभव प्रयास करेंगे और शुद्ध जल, ताजी हवा, ये सब कहीं खोकर रह गई है, इसको संरक्षित करने का अधिनियम भी बनाया गया है।

पृथ्वी दिवस पूरे विश्व में एक पर्व की तरह मनाया जाने लगा और अरबों लोग इसको मानते हैं। इतना ही नहीं बल्कि एक दिन की दिनचर्या को पर्यावरण की सुरक्षा और उसके कार्य के लिए समर्पित किया जाता है। वर्तमान में वातावरण बहुत ही दूषित होता जा रहा है और हमें इसको रोकने का हर संभव प्रयास करना होगा। पर्यावरण प्रदूषण से कैसे बचें उसके लिए आप हमारी यह पोस्ट पढ़ सकत हैं।

पर्यावरण प्रदूषण पर निबंध एवं उसके क्या क्या  निवारण है|

पृथ्वी पर बढ़ता खतरा या संकट:-

पृथ्वी पर सबसे बड़ा खतरा जो है वह ग्लोबल वार्मिंग जो कि बहुत ज्यादा प्रभाव डालता है हमारे पृथ्वी पर और उसे नष्ट करता जा रहा है। ऐसे में मानव समुदाय को बचाने के लिए और पर्यावरण को बचाने के लिए जागरूक अभियान चलाना आवश्यक है।

जनसंख्या की बढ़ोतरी ने प्राकृतिक संसाधनों पर बेफिजूल का बोझ बढ़ा दिया है। इसीलिए इन सभी संसाधनों का उचित प्रयोग करने के लिए  पृथ्वी दिवस जैसे कार्यक्रमों और अभियानों का महत्व कहीं ज्यादा बढ़ गया है और हमें पृथ्वी को बचाने के लिए हर संभव प्रयास भी करना चाहिए।

एक सर्वे के मुताबिक 1880 के बाद से समुद्र स्तर 20 प्रतिशत बढ़ गया है, और यह लगातार बढ़ता ही जा रहा है। यह 2100 तक बढ़कर 58 से 92 सेंटीमीटर तक हो सकता है, जो पृथ्वी के लिए बहुत ही ज्यादा खतरनाक है।

इसका मुख्य कारण है ग्लोबल वार्मिंग जिसको हम ग्रीन हाउस इफेक्ट भी कहते हैं जोकि ग्लेशियर के पिघलने के कारण हो रहा है।

पृथ्वी दिवस थीम 2021:-

पृथ्वी दिवस थीम 2021 Earth day theme 2021  है "restore our earth" और पछले 10 साल की थीम कुछ इस प्रकार है।

2010 की "जलवायु परिवर्तन पर एक वैश्विक जनमत संग्रह" थीम थी।

2011 की "हवा को साफ करो" थीम थी।

2012 की "पृथ्वी को संवारना" थीम थी।

2013 की "जलवायु परिवर्तन का सामना" थीम थी।

2014 की "ग्रीन सिटी" थीम थी।

2015 की "अब नेतृत्व करने की हमारी बारी" थीम थी।

2016 की "पृथ्वी के लिए पेड़" थीम थी।

2017 की "पर्यावरण और जलवायु साक्षरता" थीम थी।

2018 की "प्लास्टिक प्रदूषण का समापन" थीम थी।

2019 की "प्रोटेक्ट आवर स्पीशीज" थीम थी।

2020 की "क्लाइमेट एक्शन" थीम थी।

2021 की "restore our Earth" थीम होगी।

पृथ्वी दिवस थीम 2021
पृथ्वी दिवस थीम 2021

उपसंहार:-

हमारे पूरे भूमंडल में पृथ्वी सबसे सुंदर प्लैनेट है। और इसी पर जीवन जल, वायु तथा पेड़ पौधे हैं बड़े बड़े सुंदर पहाड़ भी देखने को मिलते हैं। बहुत ही सुंदर होने के साथ साथ पृथ्वी पर प्रदूषण की समस्या भी बढ़ता जा रहा है और हमें इसको रोकने का हर संभव प्रयास करना चाहिए।

प्रदूषण की समस्या पर निबंध इन हिंदी

पृथ्वी दिवस का ये दिन हमे बहुत ही शांति से मानना चाहिए। इस दिन हमें पेड़ पौधे लगाकर अपने आस पड़ोस में सफाई भी करनी चाहिए और स्वच्छता के लिए अपना छोटा सा योगदान जरूर करना चाहिए। और आस पड़ोस में भी लोगो को जागरूक करना चाहिए। और पृथ्वी दिवस के महत्व को भी अच्छे से समझना चाहिए।

आज पृथ्वी दिवस पर निबंध 2021 में आपको पूरी जानकारी देने की कोशिश की है आशा करता हूं आपको हमारा ये आर्टिकल अच्छा लगा होगा। अगर आप भी इससे सहमत है तो इसको ज्यादा से ज्यादा शेयर करिए और लोगो को भी जागरूक करिए।

क्या आपने इसे पढ़ा:-















इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Spelling mistake Kaise sudhare? English spelling mistake kaise sudhare

Spelling mistake Kaise sudhare? English spelling mistake kaise sudhare? Hello dosto, study bhaiya मैं आपका स्वागत है। हम आशा करते हैं कि आपको हमारे पोस्ट पसंद आ रहे होंगे और आपके लिए सहायक होंगे आज हमेशा आर्टिकल में स्पेलिंग मिस्टेक कैसे सुधारें और English spelling mistake kaise sudhare इस पर डिटेल में जानेंगे तो चलिए शुरू करते हैं- दोस्तों हमारे साथ अक्सर होता है कि लिखते समय काफी स्पेलिंग मिस्टेक हो जाती है फिर चाहे वह इंग्लिश हो या हिंदी लिखते समय गलतियां होना स्वाभाविक है। Fluently english bolna kaise seekhe  परंतु इन्हीं गलतियों की वजह से हमारे परीक्षा में अंक कमाते हैं यदि हम ब्लॉगिंग कर रहे हैं तो भी हिंदी एवं इंग्लिश स्पेलिंग का बहुत महत्व होता है। इस तरह से हम अपनी स्पेलिंग मिस्टेक सुधारने की समस्या को समझना बहुत जरूरी है। Spelling mistake kaise sudhare English Spelling mistake kaise sudhare Spelling mistake kya hai? किसी भी विषय में कठिन शब्दों को लिखते समय किसी भी प्रकार की त्रुटि के होने को स्पेलिंग मिस्टेक कहा जाता है। हमारे साथ अक्सर होता है कि लिखते स

School aur College exam me copy kaise likhe? In hindi

School aur College exam me copy kaise likhe? In hindi हेलो दोस्तो हम सब अपने एग्जाम्स को अच्छी तरीके से देने के लिए पूरा साल मन लगाकर पढ़ाई करते हैं और हम एग्जाम में अच्छे तरीके से परफॉर्म भी करते हैं। Padhai ke liye apne aapko motivate kaise kare हम एग्जाम में अच्छे से लिखते हैं पर फिर भी रिजल्ट के समय हमें हमारे दिए गए एग्जाम के हिसाब से रिजल्ट नहीं मिलता और हम निराश हो जाते हैं। तो दोस्तों क्या आप जानते हैं केवल अच्छे से पढ़ कर एक्जाम में अच्छे मार्क्स नहीं लाया जा सकता है। एग्जाम में अच्छे मार्क्स लाने के लिए आप एग्जाम में कॉपी किस प्रकार लिखते हैं यह बहुत ही ज्यादा मायने रखता है। इसलिए आज हम इस पोस्ट में आपको बताएंगे कि School exam me kaise likhe और College exam me kaise likhe जिससे कि हम किसी भी एग्जाम में आसानी से टॉप कर सके। Ese Jaroor Padhe:- Kisi bhi exam me top kaise kare? School aur College exam me copy kaise likhe in hindi Exam me kaise likhe? दोस्तों अक्सर एग्जाम देते समय हम लिखने में बहुत जल्दी बाजी करते हैं जो कि एक तरह से सही भी है क्योंकि यदि हम

Beti Bachao Beti padhao speech in hindi- बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर भाषण

  "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ" यह सुनकर आपके मन में जरूर यह बात आती होगी कि जितने भी विकास के लिए व्यवस्थाएं चलाई जाती हैं वह बेटियों के लिए क्यों होती है बेटो के लिए क्यों नहीं होती? तो दोस्तों हमारे समाज में बेटियों को हमेशा ही बेटों से कम आंका जाता है। हर क्षेत्र में लोग लड़कों को ज्यादा बढ़ावा देते हैं और लड़कियों को कम। तो आज हम इस आर्टिकल में Beti bachao beti padhao speech पर बात करेंगे जोकि आपके स्कूल( Class-5,6,7,8,9,10,11,12), कॉलेज,कंपटीशन(SSC/UPSC/MPSC/UPSSSC) में भी आपकी सहायता करेंगे। हमने अपने पिछले आर्टिकल में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर निबंध  (Beti bachao beti padhao essay in hindi) पढ़ा था। यदि आपने बाहर नहीं पढ़ाओ तो आप उसे पढ़ सकते हैं। यहां हम बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर भाषण आपके सामने प्रस्तुत करेंगे जो कि आपके विवेक और ज्ञान के विकास में लाभदायक साबित होंगे। Articles and speech on beti bachao beti padhao in hindi सभी अध्यापक और हमारे प्रधानाचार्य को मेरा प्रणाम। मैं ____  आपके सामने beti bachao beti padhao speech प्रस्तुत कर रहा/रही हूं। हमारे समाज में बेटियो