कोवैक्सीन के फायदे पर निबंध | Essay on benefits of Covaxin in hindi

Covaxin ke faide par nibandh

हेलो दोस्तों आज के विषय में हम बात करेंगे Covaxin के बारे में ये क्या है और ये कैसे काम करती है। इस वैक्सीन के फायदे क्या क्या है और side effect क्या है। वैसे तो को वैक्सीन की फायदे ही फायदे देखने को मिल रहे हैं इसलिए हम मुख्य रूप से आज हम कोवैक्सीन के फायदे पर निबंध (Essay on benefits of Covaxin in hindi) पढ़ेंगे तो चलिए शुरू करते हैं-जैसा कि हम जानते हैं कि हमारे बीच कोरोनावायरस नाम की खतरनाक बीमारी मौजूद है जिससे निजात पानें के लिए हम सब सावधानी भी रख रहे हैं।लेकिन इस वायरस से लड़ने के लिए जिस वैक्सीन को भारत में बनाया गया है उसका नाम कोवैक्सीन है। Covaxin को हैदराबाद की एक कंपनी भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने बनाया है।

कोवैक्सीन से पहले भारत बायोटेक ने बनाई अन्य वैक्सीन

Bharat biotech कंपनी की बात करे तो इससे पहले भी इन्होंने काफी वैक्सीन पहले से बनाई है जैसे- h1n1 vaccine जो कि स्वाइन फ्लू की वैक्सीन थी वो भी इसी कंपनी ने ही बनाई है। इसके एलवा rotavirus, और Zikavirus नाम कि vaccine पहले ही इस कंपनी ने बना रखी है पर अब ये कोरोनावायरस की वैक्सीन भी बना दिए हैं।

लेकिन यह वैक्सीन भारत बायोटेक ने अकेले नहीं बनाई है बल्कि Indian Council Of Medical Research (ICMR) और Indian Institute Of Virology के साथ मिलकर बनाई है।

क्या आपने इसे पढ़ा- ब्लैक फंगस पर निबंध और पूरी जानकारी

Covaxin कौन नहीं ले सकता है? (Restrictions)

भारत बायोटेक की ओर से गाइडलाइन आ चुकी है कि किन लोगो को ये वैक्सीन नहीं लगवानी है। तो आइए नीचे दिए बिंदुओं को ध्यान से पढे-

• जिसे किसी भी प्रकार की एलर्जी, ब्लड प्रेशर की समस्याएं, या किसी का खून काफी पतला हो तो उसे covaxin नहीं लेनी है।

• ऐसे लोग जो कोई दवा ले रहे हैं या जिनका इम्यूनिटी सिस्टम इससे प्रभावित होता है। उन्हें भी ये covaxin नहीं लगवानी है। भारत बायोटेक की ओर से ये गाइडलाइन आ चुकी है।

• गाइडलाइन में ये भी साफ लिखा गया है कि गर्भवती महिलाएं, ब्रेस्ट फीडिंग कराने वाली मां, या हाल ही में कोई दूसरी वैक्सीन लगवा चुकी महिला को भी covaxin नहीं लगवानी है।

•  इन सब के अलावा टीकाकरण की देखरेख करने वाले टीकाकरण अधिकारी द्वारा निर्धारित स्वास्थ्य स्वास्थ्य संबंधी गंभीर समस्याएं पाए जाने पर भी covaxin नहीं लगवानी है।

Covaxin के फायदे (Benefits)

अब हम जानेंगे कि Covaxin के फायदे के बारे में तो चलिए एक नजर Covaxin के फायदे पर भी डाल लेते है-

1- Covaxin का फायदा कुछ इस प्रकार हो रहा है कि लगवाने के बाद भी कोरोनावायरस हो जा रहा है पर असल में लोगो मे वायरस से लड़ने की शक्ति बढ़ा रही है ये वैक्सीन ये एक ऐसी वैक्सीन है जो आपके इम्यूनिटी सिस्टम को और भी ज्यादा ताकतवर बनाती है।

2- हा ये सिम्पटम लोगो मे देखने को मिले हैं कि vaccine लगवाने के बाद उन्हें बुखार, sir दर्द, जैसी बीमारी हुई है परन्तु ये बस नॉर्मल side effect है इससे आपकी body को कोई नुक़सान नहीं होगा।

3- अगर आप किसी अन्य बीमारी से जूझ रहे हैं  तो covaxin आपको उससे लड़ाई करने के लिए भी असरदार साबित हो सकती है। क्लीनिकल ट्रायल के बाद ही कोई भी वैक्सीन को इंसानों को लगाने की मंजूरी दी जाती है। तो आप आसानी से इसपर भरोसा कर सकते हैं।

4- वैक्सीन लगवाने के बाद भी अगर आपको कोरोनावायरस हुआ है तो इस वैक्सीन में ऐसे आक्सिडेंट मौजूद है जो आपके इम्यूनिटी सिस्टम को वायरस से फाइट करने के लिए तैयार रखता है।

5- वैक्सीन लगवाने के बाद आपके अंदर अलग से ही एक confidence boost होगा और ये आपके लिए सबसे जायदा जरूरी है कि आप ये दृढ़ निश्चय करें कि आप किसी भी वायरस से लड़ने के लिए सज्य हैं।

Covaxin के Side-Effect क्या क्या है?

Covaxin के हल्के से side effect है vaccine लगवाने के बाद इंजेक्शन वाली जगह पर दर्द, सूजन, लाल निशान, खुजली, हाथ को ऊपर उठाने में दर्द, इंजेक्शन लगे हाथ में कमजोरी, शरीर में दर्द, सिर दर्द जैसी चीजे देखने को मिली है। पर ये केवल एक से दो दिन तक ही रहता है उसके बाद Vaccine अपना असली फायदा दिखती है।

उपसंहार (Conclusion)

तो आज हमने इस निबंध में बहुत ही आसान शब्दों में कोवैक्सीन के फायदे पर निबंध (Essay on benefits of Covaxin in hindi) आपको समझने की कोशिश करी है और हम आशा करते हैं कि यह जानकारी आपके लिए सहायक होगी। अगर जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर करना ना भूले। हम आपके लिए ऐसे ही सहायक जानकारी लाते रहेंगे तब तक स्वस्थ रहिए मस्त रहिए।

इसे भी जरूर पढ़ें-

FAQ

1- कोवैक्सीन क्या सुरक्षित है?

Ans- कोवैक्सीन बिल्कुल safe है। वैक्सीन हमारी सुरक्षा के लिए ही बनाई हैं। जल्द से जल्द Vaccinate होकर अपने आप को सुरक्षित करें।

2- कोवाक्सिन सभी को दी जाएगी या सिर्फ जिनको कोरोना है उन्हीं को?

Ans- जी Covaxin सभी को दी जाएगी। जो कोरोनावायरस से पीड़ित हैं उन्हें कोरोना टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट आने के एक महीने बाद ही कोवैक्सीन लगवाना चाहिए।

3- ग्वालियर में 1 मार्च से Covaxin टीकाकरण के लिए कौन से प्राइवेट हॉस्पिटल अधिकृत हैं और कोवैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

Ans- आप अपने पास के area की वैक्सीन की availability जानने के लिए और रजिस्ट्रेशन के लिए आप नीचे लिंक पर क्लिक कर सकते हैं।
Click Here

4- कोवाक्सिन लेने के बाद शराब पी सकते है क्या?

Ans- स्वास्थ्य सलाहकारो का मानना है कि वैक्सीन लगवाने के पहले या लगवाने के बाद में शराब का सेवन ना करें।

5- कोवाक्सिन का दूसरा दोस कितने दिन बाद लेना चाहिए?

Ans- 6-8 हफ्ते बाद।

6- हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटिक पेशेंट्स और प्रेग्नेंट लेडीज को कोवाक्सिन वैक्सीन लगाना चाहिए या नहीं?

Ans- जी हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज पेशेंट को वैक्सीन तुरंत लगवाना चाहिए क्योंकि इनमें कोरोनावायरस फैलने के आसार ज्यादा होते हैं
गर्भवती महिला Covaxin  को लगवाने से पहले डॉक्टर की सलाह लें।

2 thoughts on “कोवैक्सीन के फायदे पर निबंध | Essay on benefits of Covaxin in hindi”

  1. Pingback: Covaxin Vs Covishield in hindi | कोवैक्सीन और कोविशील्ड में क्या अंतर है?

  2. Pingback: Rahul Vohra par puri jankari in Hindi राहुल वोहरा पर पूरी जानकारी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share via
Copy link
Powered by Social Snap