नेशनल डॉक्टर्स डे पर निबंध | Essay On Doctors Day In hindi 2021

हेल्लो दोस्तो आज के इस लेख में हम बात करेंगे नेशनल डॉक्टर्स डे की। जी हां जैसा की आपको पता है कि नेशनल डॉक्टर्स डे करीब आ रहा है तो हम आपके लिए उससे से संबंधित नेशनल डॉक्टर्स डे पर निबंध लेकर आएं है। जो क्लास 5,6,7,8,9 to 12th तक किसी भी क्लास के छात्र व छात्राओं के लिए सहायक होगा। इसमें हम आपको नेशनल डॉक्टर्स डे से संबंधित पूरी जानकारी देने का प्रयास करेंगे।

राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस (प्रस्तावना)

नेशनल डॉक्टर्स डे इस दिन को हम राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के नाम से भी जानते हैं। डॉक्टर की भूमिका हमारे जीवन में काफी महत्वपूर्ण है। पूरे विश्व में डॉक्टर्स को भगवान का दर्जा दिया जाता है। हालांकि इस पृथ्वी पर ऐसा कोई नहीं है जिनकी तुलना भगवान से करी जाए पर डॉक्टर्स को मरीजों का भगवान ही माना जाता है। वैसे तो मनुष्य का जीना मरना सब ईश्वर के हाथों में है पर ईश्वर ने इंसान को डॉक्टर के रूप में हम सबकी सहायता के लिए ही भेजा है और कई बार तो यही डॉक्टर हम सब को मृत्यु जैसी कठिन परिस्थितियों से बचाते हैं। इसी कारण से डॉक्टरों को जीवन दाता का नाम दिया गया है।

नेशनल डॉक्टर्स डे पर निबंध
नेशनल डॉक्टर्स डे पर निबंध

वैज्ञानिकों के द्वारा किए गए विज्ञान में चमत्कार से डॉक्टरों ने इस उपलब्धि को हासिल किया है कि वह किसी भी बीमारी का इलाज अपने हाथों से कर सकते हैं और किसी को भी प्राण दान दे सकते हैं।

नेशनल डॉक्टर्स डे कब और कहां मनाया जाता

नेशनल डॉक्टर्स डे केवल भारत में ही नहीं अपितु कई अन्य देशों में भी मनाया जाता है। आइए नीचे दी गई बिंदुओ मे जान लेते हैं की किन किन देशों में और कब नेशनल डॉक्टर्स डे मनाया जाता है।

• भारत

हमारे देश में नेशनल डॉक्टर्स डे 1 जुलाई के दिन मनाया जाता है। क्यूंकि इसी दिन को महान चिकित्सक की जन्म तिथि व मृत्यु तिथि एक साथ पड़ती है और उन्ही की याद में राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस मनाया जाता है। उन सज्जन का नाम बिधान रायउन सज्जन का नाम डॉ विधान राय है।

• अमेरिका

अमेरिका में यह अद्भुत दिन 30 मार्च को मनाया जाता है। पहली बार इस दिन को मनाने का विचार डॉ चार्ल्स बी आलमंड व उनकी पत्नी यूडोरा ब्राउन आलमंड को आया था।

• ब्राज़ील

ब्राजील में राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस 18 अक्टूबर को मनाया जाता है और इस दिन को सबकी छुट्टी भी रहती है।

• ईरान

ईरान में नेशनल डॉक्टर्स डे 23 अगस्त के दिन मनाया जाता है। जोकि वहां के महान डॉक्टर ए का जन्म दिन भी था।

• क्यूबा

क्यूबा में डॉक्टर्स डे 3 दिसंबर के दिन मनाया जाता है।

• वियतनाम

वियतनाम में डॉक्टर्स डे 28 फरवरी के दिन 1955 में पहली बार मनाया गया था।

ऑस्ट्रेलिया30th of March
कुवैत3rd of March
ब्राज़ील18 October
Canada1 May
Turkey14 March
मलेशिया10 October
वेतनाम28 फरवरी

राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के पीछे का इतिहास

राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के इतिहास की बात करा जाए तो यह हर देश में अलग-अलग दिन पर मनाया जाता है तो इसके इतिहास भी अलग-अलग देशों में भिन्न है। इसलिए आज हम भारत में चिकित्सक दिवस के इतिहास के बारे में बात करेंगे।

भारत में राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस की शुरुआत सन् 1991 में भारत सरकार द्वारा की गई। उसी दिन से नेशनल डॉक्टर्स डे जुलाई की 1 तारीख को मनाया जाने लगा। इस दिन हर डॉक्टरों को एक अलग सम्मान वह बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता है। इस दिन को पौराणिक चिकित्सक और पश्चिम बंगाल के दूसरे मुख्यमंत्री का सम्मान करने व श्रद्धांजलि देने के लिए मनाया जाता है। उनका नाम है डॉ बिधान चन्द्र रॉय था। इनका जन्म सन् 1882 मे 1 जुलाई को बिहार के पटना जिले में हुआ था और आश्चर्य की बात ये है कि इसी दिन 80 साल बाद इनकी मृत्यु भी हो गई। डॉ बिधान राय एक चिकित्सक के अलावा स्वतंत्रता सेनानी भी थे। उन्होंने कोलकाता से अपना मेडिकल स्नातक पूरा कर सन् 1911 मे लंदन में एमआरसीपी और एफआरसीपी की डिग्री हासिल की।

नेशनल डॉक्टर्स डे मनाने का उद्देश्य

किसी भी व्यक्ति के जीवन में एक डॉक्टर अहम भूमिका निभाता है। क्यूंकि इस विश्व में कोई भी व्यक्ति ऐसा नहीं है जिसको कभी डॉक्टर के पास ना जाना पड़ा हो। इसलिए डॉक्टरों की भूमिका एक मनुष्य के जीवन में बहुत ज्यादा है। दूसरी तरफ डॉक्टर भी मनुष्य को ठीक करने में अपनी जी जान लगा देते हैं। ऐसे में डॉक्टरों का सम्मान करना हमारे लिए गर्व की बात है। इसी उद्देश्य से भारत सरकार ने इस को जागरूकता अभियान के रूप में शुरू कर दिया है। कि हर व्यक्ति को डॉक्टरों के प्रति सम्मान होना चाहिए और एक वार्षिक उत्सव के रूप में 1 जुलाई को मानना भी चाहिए।

डॉक्टर्स का यह वार्षिक उत्सव सभी डॉक्टरों और चिकित्सकों के लिए प्रोत्साहन का दिन होता है। ये दिन उन डॉक्टरों के लिए भी अहम है जो अपने पेशे के प्रति ईमानदार बिल्कुल नहीं है और हम ये सोच कर जागरूकता अभियान चला रहे की शायद अब उनकी आंखे खुलेगी और वो गलत कार्य को छोड़ देंगे।

हमारे समाज में कुछ ऐसे डॉक्टर भी हैं जो गरीबों की मजबूरी का फायदा उठाते हैं और उनसे मोटी रकम वसूल कर उनके मरीजों को आईसीयू में रखकर शरीर के अंग भी निकाल लेते हैं। ऐसे डॉक्टरों की आंख खुलने के लिए भी हम इस दिन को डॉक्टर दिवस के रूप में मनाते हैं।

डॉक्टर्स डे 2021 (राष्ट्रीय चिकित्सा दिवस) कैसे मनाया जाता है

इस साल 2021 में 1 जुलाई को 31वां नेशनल डॉक्टर्स डे मनाया जाएगा। इस दिन ही हम प्रत्येक डॉक्टरों का सम्मान करते है और उनके द्वारा किए गए कार्य की सराहना कर के उनको धन्यवाद भी देते हैं। ये दिन और हमारा सम्मान केवल उन डॉक्टर्स को समर्पित है जो सच में गरीबों को रक्षा कर रहे हैं और पारदर्श तरीके से हर किसी का इलाज कर रहे हैं। आइए अब जानते है कि ये दिन किस प्रकार मनाया जाता है।

भारत में व अन्य देशों में कुछ संगठन इसको अपने अपने तरीके से मनाती हैं। जैसे डॉक्टर के द्वारा दिए गए योगदान को कोई भूल ना जाए उसके उसके लिए राष्ट्रीय जागरूकता कार्यक्रम का भी आयोजन होता है। ये कार्यक्रम कोलकाता में उत्तरी कोलकाता एवं पूर्वी कोलकाता के समाजिक एवं कल्याण संगठन के रोटरी क्लब द्वारा मनाया जाता है।

• इस दिन हैल्थ केयर सेंटर द्वारा राष्ट्रीय व सामाजिक केंद्रो पर गरीबों की जांच के लिए शिविर लगाए जाते हैं जो की बिल्कुल मुफ्त होते है ताकि उन गरीबों का इलाज हो पाए और डॉक्टर्स की महत्वता को समझा जाए।

• इस दिन के महत्व को बढ़ाने के लिए मुफ्त में ब्लड टेस्ट, सुगर टेस्ट, ब्लड प्रैशर, ईसीजी, इत्यादि चीज़ों का चेकअप होता है और गतिविधियों का आयोजन किया जाता है।

नेशनल डॉक्टर्स डे की थीम (Theme)

आपको यह जानकर खुशी होगी कि हर साल डॉक्टर डे मनाने के लिए एक थीम (विषय) की घोषणा की जाती और उस थीम (विषय) को ध्यान में रख कर ही आयोजन किया जाता है। जैसे 2020 मे डॉक्टर्स डे की थीम थी (Lesson the mortality of Covid 19) और 2021 की थीम (Building the Future with Family Doctors) है।

वर्ष 2021 की थीम Building the Future with Family Doctors
वर्ष 2020 की थीमLesson the mortality of Covid 19
वर्ष 2019 की थीम Zero Tolerance to violence against Doctors and Clinical establishment
वर्ष 2018 की थीमFamily Doctors – Leading the way to Better Health

नेशनल डॉक्टर्स डे पर नारे

आइए डॉक्टर्स डे पर कुछ नारे भी देख लेते हैं:-

• गरीबों की एक आस डॉक्टर है उनके साथ।

• एक उत्तम डॉक्टर पर्चों की बजाय इलाज व सलाह पर ज्यादा ध्यान देता है।

• संसार में डॉक्टर ही वह व्यक्ति है जिसे मनुष्य आस भरी नजरों से देखता है जैसे कि वह ईश्वर से दुआ कर रहा हो।

• अगर हर गरीब को एक उत्तम डॉक्टर मिल जाए तो कोई गरीब बीमार नहीं रह जाएगा।

• गरीबों का हर्ते है दुख इसीलिए इतने खास है और समृद्ध है डॉक्टर।

उपसंहार

आज के नेशनल डॉक्टर्स डे पर निबंध लेख में हमने चिकित्सक दिवस के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करी है हम आशा करते हैं कि आप अपने जीवन में डॉक्टरों की महत्वता को समझेंगे और इस दिन को खास बनाने के लिए हर डॉक्टर का सम्मान भी करेंगे। हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा पसंद आया हो तो इसे अपने मित्रों व रिश्तेदारों के साथ भी अवश्य शेयर करें।

क्या आपने इसे पढ़ा –

2 thoughts on “नेशनल डॉक्टर्स डे पर निबंध | Essay On Doctors Day In hindi 2021”

Leave a Comment